Kindly make your humble Donations and become a part of this pious cause.
NARAYAN SEVA SANSTHAN

A non-profit service oriented voluntary registered organization committed for the all round development
& rehabilitation of the disabled-particular the polio afflicted & those born with disabilities.

Back

Narayan Modular Artificial Limb Workshop on Wheels inaugurated today

 

नारायण सेवा संस्थान के सेवामहातीर्थ बडी ग्राम में सोमवार को संस्थान संस्थापक कैलाश मानव ने जीवन के 71 वें वर्ष में प्रवेश पर ‘‘नारायण मोडयूलर आर्टिफिशियल लिम्ब वर्कशॉप ऑन व्हील’’ का लोकार्पण किया। इस अवसर पर संस्थान साधकों व देश के विभिन्न भागों से आए सेवामनीषियों ने दिव्यांगजन की निःशुल्क चिकित्सा एवं दीन- दुखियों की सेवा के लिए उनके समर्पित जीवन का उल्लेख करते हुए अभिनन्दन किया। मानव ने कहा कि जीवन वही सार्थक है, जो दूसरो के काम आए। उन्होंने संस्थान की 30 वर्ष की सेवा यात्रा पर प्रकाश डालते हुए सहियोगियों का आभार व्यक्त किया। समारोह के विशिष्ट अतिथि योगेन्द्र गुप्ता गाजियाबाद, लक्ष्मीकांत उपाघ्याय नेपाल,किशोरी मधु मुम्बई व संदीप तिवारी दिल्ली थे। सहसंस्थापिका कमला देवी अग्रवाल ने पिंण्डवाडा में हुई उस सडक दुर्घटना का जिक्र किया , जिसने मानव जी के संपूर्ण जीवन को दीन दुखियों की सेवा में  समर्पण की प्रेरणा दी। उन्होने इसी माह 22 जनवरी को नई दिल्ली में संस्थान की ओर से होने वाले 28 वें निःशुल्क सामूहिक दिव्यांग एवं निर्धनजन विवाह समारोह की जानकारी दी।
संस्थान अध्यक्ष प्रशांत अग्रवाल ने अतिथियों का स्वागत करते हुए शहर के घरो से एक -एक मुठ्ठी आटा एकत्रिकरण से मानव जी द्वारा 30 वर्ष पूर्व शुरु की गई नारायण सेवा की विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि कंुआ प्यासे के पास योजना में‘‘नारायण मोडयूलर आर्टिफिशियल लिम्ब वर्कशॉप ऑन व्हील’’ देश भर में भ्रमण कर जरुरतमंद एवं चयनित दिव्यांगो को कृत्रिम हाथ -पैर निःशुल्क उपलब्ध कराएगी। इस मोबाईल वैन के  लोकार्पण के बाद अब दिव्यांगो का कृत्रिम हाथ -पैर लगवाने के लिए उदयपुर तक नहीं आना पड़ेगा  और मौके पर ही इंजीनियर कृत्रिम अंग निर्माण कर लगाएंगे। वैन में तीन इंजीनियरों सहित आठ लोगों की टीम होगी। इस तरह की यह दिव्यांगो को समर्पित पहली कृत्रिम अंग निर्माण मोबाईल वर्कशाप है। संस्थान निदेशक वंदना अग्रवाल ने सर्दी के मौसम में शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में आठ हजार लोगों व स्कूली बच्चों को कंबल,स्वेटर, जैकेट आदि प्रदान करने कि जानकारी दी। समारोह को निदेशक जगदीश आर्य, देवेन्द्र चौबीसा, डॉ ए.एस चूण्डावत व सोहन पूर्बिया ने संबोधित किया। संचालन महिम जैन ने किया। 

 

TOP