Kindly make your humble Donations and become a part of this pious cause.
NARAYAN SEVA SANSTHAN

A non-profit service oriented voluntary registered organization committed for the all round development
& rehabilitation of the disabled-particular the polio afflicted & those born with disabilities.

Back

Conclusion of Mass Free of Cost Modular Artificial Limb Distribution Camp

नारायण सेवा संस्थान दिल्ली में
-विशाल निःशुल्क मोड्यूलर कृत्रिम अंग वितरण शिविर का आयोजन

नारायण सेवा संस्थान ने विश्व विकलांगता दिवस के अवसर पर संस्थान संस्थापक चेयरमैन कैलाश मानव के आशीर्वाद से दिल्ली के जीटीबी नगर में निःशुल्क मोड्यूलर कृत्रिम अंग वितरण शिविर का आयोजन हुआ।

3 दिसंबर को दिल्ली के पूरूशार्थ श्रीहरि मंदिर, किंग्सवे कैंप, जीटीबी नगर में आयोजित इस शिविर में 51 मोड्यूलर कृत्रिम नारायण हाथ-पैर के साथ ही ट्राई-साइकिल, व्हील-चेयर, बैसाखी, ब्लाइंड स्टिक्स, श्रवण यंत्र आदि सहायक उपकरण वितरित किए गए। संस्थान दिव्यांगों और समाज के कमजोर तबके की सहायता करता है। शिविर से पहले 1 दिसंबर को विकलांगता के मुद्दे को हल करने के बारे में एक पत्रकार वार्ता भी हुई थी।  

इस कल्याणकारी कार्यक्रम में नारायण सेवा संस्थान के अध्यक्ष प्रशांत अग्रवाल ने कहा, ’’विश्व विकलांगता दिवस पर निःशुल्क मोड्यूलर कृत्रिम अंग वितरण शिविर का आयोजन करते हुए हर्श हो रहा है। उन्होंने आगे कहा कि विकलांगता एक गंभीर व्याधि है जिससे लड़ना होगा। अपने योगदान के माध्यम से हम यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि विकलांगता से पीड़ित जन तीव्रता से प्रगति करते हुए पूर्णतः सामान्य व्यक्ति की तरह क्रियाशील हो सकें। हमारा परम ध्येय है कि समाज के कल्याण के लिए विकलांगता का उन्मूलन करने में योगदान करें।’’

संस्थान निदेशक वंदना अग्रवाल ने यहां जरूरतमंदो को कंबल वितरित किए, उन्होंने कहा कि, ’’संस्थान का लक्ष्य है- विकलांग एवं मानसिक रूप से निर्बल लोगों को समुचित सुविधाओं के साथ शिक्षा एवं व्यावसायिक प्रशिक्षण दिया जाए, जिससे कि उनकी क्षमताओं का पूर्ण विकास हो सके और वे स्वावलंबी व स्वतंत्र बन सकें। मोड्यूलर कृत्रिम अंग वितरण शिविर हमारे लिए एक और अहम अवसर है जब हम विकलांगता के बारे में जागरुकता बढ़ाने और समाज के किसी भी अन्य सदस्य की तरह पुनर्वास करने में उनकी मदद कर सकते हैं।’’
 
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में पधारी संत निरंकारी चैरिटेबल फाउण्डेशन की कार्यकारी अध्यक्षा बिंदिया जी छाबड़ा संस्थान की सेवाओं से अत्यंत अभिभूत हुईं। कार्यक्रम में आचार्य सुनील कौशिक जी महाराज, विजय आनंद, अंजू क्वात्रा, धर्मपाल गर्ग, अजीत कुमार शास्त्री, एस.पी. कालरा, राजमोहन गेहरोत्रा आदि उपस्थित थे।
 
दिव्यांग भाई-बहिनों में आगरा से आए हुए बॉडी-बिल्डिंग चैम्पियन अब्दुल रहमान भी उपस्थित थे जिन्होंने अपनी शारीरिक अपंगता को परास्त किया और आने वाले दिनों में कनार्टक, पहलगांव में नेशनल बॉडी बिल्डिंग चैम्पियनशिप में शिरकत करने जा रहे है। देशभर से आए दिव्यांग भाई-बहनों ने बेडमिंटन और फुटबाल खेलकर अपने सक्षम होने का अहसास कराया।आगरा से आए बिट्टू ने अपने कृत्रिम नारायण पांव से साईकिल चलाकर और मेरठ से आए जनार्दन व आगरा से आए रामनरेश यादव ने कृत्रिम पांव के सहारे स्कूटी चलाकर कार्यक्रम में आए दर्शकों को दातों तले उंगली दबाने पर विवश कर दिया। कार्यक्रम का संचालन ओम पाल सीलन ने किया।


TOP