Kindly make your humble Donations and become a part of this pious cause.
NARAYAN SEVA SANSTHAN

A non-profit service oriented voluntary registered organization committed for the all round development
& rehabilitation of the disabled-particular the polio afflicted & those born with disabilities.

Back

501 Kanya Pujan at Narayan Seva Sansthan Udaipur

शक्तिरूपा 501 दिव्यांग कन्याओं का पूजन

‘बेटी बचाओ - बेटी पढ़ाओ का दिया संदेश 
उदयपुर 28 सितम्बर। नारायण सेवा संस्थान ने गुरुवार को हिरण मगरी सेक्टर
4 स्थित मानव मंदिर परिसर में -शारदीया नवरात्रि की दुर्गा-अष्ट्मी पर 501 निः-शक्त
कन्याओं का अनुष्ठानपूर्वक महापूजन किया। ये सभी कन्याएं जन्मजात दिव्यांग
अथवा पूर्व पोलियोग्रस्त थीं। इनके निः-शुल्क ऑपरेशन नवरात्रा के
दौरान संस्थान के हॉस्पीटल में सम्पन्न हुए। इस दौरान कन्याओं के
अभिभावक भी उपस्थित थे। देवी स्वरूपा इन कन्याओं के पूजन से पूर्व सह- संस्थापिका कमला देवी, निदेशक वन्दना अग्रवाल, जगदीश आर्य, देेवेन्द्र चौबीसा और साधकों ने हवन कर माता का आव्हान किया। मुख्य अतिथि जिला
कलेक्टर बिष्णु चरण मल्लिक ने कहा कि परिवार और समाज में बेटा - बेटी को
समान मानते हुए उन्हे संस्कारित किया जाए। बेटियों की उपेक्षा का ही परिणाम है
कि कन्या भ्रूण हत्या और महिला उत्पीड़न की घटनाएं बढ़ रही है। हमें
इस प्रवृति को रोकना होगा।उन्होने संस्थान को हर संभव सहयोग का
आश्वासन देते हुए पोलियो केरेक्टिव सर्जरी के लिए भर्ती बच्चों से भेंट
की और विभिन्न सेवा प्रवृतियों का अवलोकन किया । कार्यक्रम का संचालन महिम
जैन ने किया।
ओढ़ाई लाल चुनर: जिला कलेक्टर ने माता की प्रतिमा को चुनर अर्पित कर
सभी दिव्यांग कन्याओं का पूजन किया। संस्थान निदेशक वंदना अग्रवाल व
अतिथियों नेविशाल पाण्ड़ाल में सजी धजी चौकियों पर बिराजित दिव्यांग
कन्याओं को लाल चुनर ओढ़ाई और नैवेद्य रूप में हलवा, पूरी और भीगे
हुए चने परोसे तथा पोशाक, प्रसाधन सामग्री व अन्य उपहार भेट किए। ये कन्याएं
राजस्थान, प.बंगाल, उत्तर प्रदेश, बिहार, छत्तीसगढ, गुजरात, -झारखंड़, जम्मु कश्मीर
व नेपाल सहित देश के अन्य भागों से 15 दिन पूर्व ही निः-शुल्क पोलियो
केरेक्टिव सर्जरी के लिए संस्थान में उनके परिजनों के साथ आई थीं।
संस्थान निदेशक वन्दना अग्रवाल ने जिला कलेक्टर का स्वागत करते हुए कहा कि इस
अनुष्ठान का उद्देश्य  समाज में बेटियों को बचाने और पढ़ाने का संदेश
देकर उन्हें आगे बढाना है।

फोटो संलग्न विष्णु शर्मा हितैषी

मीडिया प्रभारी

 

TOP